कैसे शुरू करें ज्वेलरी का बिजनेस ? कितनी आएगी लागत और कितना होगा मुनाफा

. 1 min read
कैसे शुरू करें ज्वेलरी का बिजनेस ? कितनी आएगी लागत और कितना होगा मुनाफा

कहते हैं गहने महिलाओं की ख़ूबसूरती है. एक गहना किसी महिला की ख़ूबसूरती में चार चांद लगा देता है. इसलिये सदियों से महिलाओं के लिये तरह-तरह के गहने बनते आ रहे हैं.

हिंदुस्तान में क्यों है ज्वेलरी का महत्व

कहते हैं हिदुस्तान एक ऐसा देश है, जो अपनी सभ्यता और शान-ओ-शौकत के लिए जाने जाता है. हिंदुस्तान के राजा-महाराजा अपने शाहीपन के लिए मशहूर थे. मंहगे कपड़े, गाड़िंया और ज्वैलरी ही उनकी पहचान हुआ करती थी. भारतीय राज-घरानों के इन शाही गहनों के बारे में जानकर मन में लालच आना थोड़ा वाजिब है. इसके लिये हम क्या ही कर सकते हैं.

हांलाकि, ज्वैलरी (Jewellery) लेना जितना आसान है, उसका ख़्याल रखना उतना ही बड़ा टास्क है. ज्वेलरी ले तो सब लेते हैं, पर उसकी देख-रेख कुछ ही लोग कर पाते हैं. इसलिये ज़रूरी है कि अगर आप मार्केट से किसी भी प्रकार का गहना ख़रीदें, तो उसकी केयर करें. तब जाकर उसकी चमक बरकरार रख पायेंगे.

मार्केट में किस ज्वेलरी की ज़्यादा डिमांड है

अगर आज के समय को देखा जाये, तो अब सोने-चांदी के गहनों से ज्यादा आर्टीफ़िशियल ज्वेलरी की डिमांड है. अब सोने-चांदी से ज़्यादा लोग आर्टीफ़िशियल ज्वेलरी पहनना पसंद करते हैं.

इसका पहला कारण है कि सोना-चांदी ख़रीदना हर किसी के बस की बात नहीं है. दूसरा ये कि इन्हें पहन कर बाहर निकलना काफ़ी रिस्की भी हो गया है. इसलिये अधिकतर लोग किसी भी तरह के फंक्शन में ऑर्टीफ़िशियल ज्वेलरी पहनना पसंद करते हैं. ये सोने की गहनों से सस्ती भी पड़ती है और इन्हें पहनना रिस्की भी नहीं होता. आप आराम से इसे कहीं भी लेकर जा सकते हैं.

बढ़ रही है ऑर्टीफ़िशियल ज्वेलरी की डिमांड

बाज़ार में अब ऑर्टीफ़िशियल गहनों का मांग लगातार बढ़ती जा रही है. यही वजह है कि मार्केट में तरह-तरह के महंगे ऑर्टीफ़िशियल गहने उपलब्ध हैं. बेहतरीन और डिज़ाइन वाले ऑर्टीफ़िशियल गहने हर कोई पहनना पसंद कर रहा है. यही वजह है कि अधिकतर लोग इस व्यापार में पैर परासने की सोच रहे हैं.

अगर आप भी इस व्यापार (Business) में क़दम रखना चाहते हैं, तो उससे पहले आपको कई चीज़ों के बारे में जानना बेहद आवश्यक है. ताकि सोच-विचार के बाद आप अपना बिज़नेस शुरू कर पायें.

आइये जानते हैं कि व्यापार की शुरूआत करने के लिये आपको क्या-क्या चाहिये होगा!

1. इन्वेस्टमेंट

कोई भी व्यापार पैसों के बिना शुरू नहीं किया जा सकता है. व्यापार में पैसे दो तरीके से लगाये जा सकते हैं. या तो आपके पहले से जुड़ी हुई सेविंग्स हों, दूसरा तरीका है कि कोई आपके बिज़नेस में पैसा लगाने के लिये राज़ी हो. कोई बिज़नेस में पैसा तभी लगायेगा, जब वहां उसे फ़ायदा दिखेगा. अगर आपके पास सेविंग्स नहीं हैं, तो अपने बिज़नेस प्लान को इस तरह से पेश करिये कि सामने वाला चाहकर भी इंवेस्टमेंट के लिये मना न कर पाये.

2. जमीन

बिज़नेस की शुरूआत कहां से करनी है ये आप निर्भर करता है, लेकिन बिज़नेस शुरू करने के लिये प्रॉपर्टी की आवश्यकता पड़ेगी ही. इसलिये ज्वैलरी का काम शुरू करने से पहले ज़मीन फ़ाइनल कर लें. तो बेहतर होगा.

3. बिज़नेस प्लान

बिज़नेस प्लान इंवेस्टर के मक़सद से बेहद ज़रूरी होता है. बिज़नेस प्लान में ख़र्च से लेकर मुनाफ़ा तक शामिल होना चाहिये. इसके बाद आपको अंदाज़ा हो जायेगा कि बिज़नेस प्लान कितना काम करेगा या नहीं.

4. बिल्डिंग

ज्वैलरी स्टोर के लिये आपको किसी बिल्डिंग की आवश्यकता होगी. बिल्डिंग ऐसी जगह लें, जहां शॉपिंग के लिए लोग आते-जाते हों. तभी आपके स्टोर पर ब्रिकी की गुंजाइश अधिक होगी.

5. मशीन

ज्वैलरी बनाने के लिये आपको मशीन की ज़रूरत होगी. जिसे आप मार्केट या ऑनलाइन मंगवा सकते हैं.

6. बिजली, पानी की सुविधा

ज्वैलरी बनाने वाली फै़क्ट्री में 24 घंटे बिजली पानी की सुविधा होनी चाहिये. वरना आपका काम बाधित हो सकता है.

7. कर्मचारी

व्यापार की शुरूआत में आप 2-4 कर्मचारी रखते हैं. अगर आपको लगता है कि ये भी ज़्यादा हैं, तो ख़ुद से निर्णय ले सकते हैं.

8. कच्चा माल

कच्चा माल ख़दीदने के लिये होलसेल मार्केट चुने, तो बेहतर होगा. इससे पैसे बचेंगे और माल भी सही मिलेगा.

9. वाहन

माल लाने-जाने के लिये आपको एक गाड़ी रखनी पड़ेगी. बिना गाड़ी के काम करना नामुमकिन है.

ध्यान देने वाली बात ये है कि अगर आप इस व्यापार को छोटे लेवल पर शुरू करते हैं, तो इसमें ज़्यादा समय की ज़रूरत नहीं है. पर अगर आप व्यापार बड़े लेवल पर शुरू करते हैं, तो इसमें समय लग सकता है.

एक बड़े लेवल पर बिज़नेस शुरू करने के लिये आपको ज़्यादा पैसों की आवश्यकता पड़ती है. बड़ी जगह, बड़ी प्लानिंग वैगरह बहुत सारी चीज़ों की ज़रूरत होती है. इसके लिये आपको बहुत सारा अनुभव चाहिये होता है.

वहीं छोटे स्तर पर व्यापार करने के लिये आपको न ज्यादा पैसे चाहिये, न ही बड़ी जगह और न ही बहुत बड़ी प्लानिंग. छोटे स्तर पर व्यापार घर से भी शुरू किया जा सकता है. इसके लिये इंवेस्टमेंट के बारे में भी ज़्यादा सोचना नहीं पड़ता.

आइये जानते हैं कि ऑर्टीफ़िशियल ज्वेलरी के लिये आपको क्या-क्या साम्रगी चाहिये होती है, जिससे आप उससे ऑर्टीफ़िशियल ज्वेलरी का काम शुरू कर पायें.

1. चांदी की माला

2. मनका

3. गोंद

4. एल्यूमीनियम मिश्र धातु

5. बाउल

व्यापार के लिए कच्ची सामग्रियों को आप कहां से ले सकते हैं. ऑर्टीफ़िशियल ज्वेलरी का सामान आप होलसेल मार्केट से ख़रीद सकते हैं. इसके अलावा अगर आप बाज़ार जाकर ख़रीददारी नहीं कर सकते हैं, तो फिर इसे ऑनलाइन किसी वेबसाइट से ले सकते हैं.

ज्वेलरी बनाने के लिये आपको मशीन की आवश्यकता होती है. इसके लिये आपको दो मशीनों की ज़रूरत पड़ती है. ये दोनों मशीनें ऑटोमेटिक होती हैं.

मशीन की क़ीमत क्या होती है

दोनों मशीने आपको 20 हज़ार से 50 हज़ार रुपये में मिल जायेंगी. इसे बाज़ार और ऑनलाइन दोनों जगह से खरीद सकते हैं.

कोई भी व्यापार करने के लिये आपको कुछ पर्सनल डाक्यूमेंट्स चाहिये होते हैं, जिसके लिये आपको पहले से तैयार रहना चाहिये. आइये जानते हैं कि व्यापार के लिये पर्सनल डाक्यूमेंट क्या-क्या चाहिये होगे.

1. आईडी प्रूफ- आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड

2. पता प्रमाण- राशन कार्ड, बिजली बिल

3. बैंक खाते की पासबुक

4. फ़ोटोग्राफ़, ईमेल आईडी और फ़ोन नबंर

अन्य दस्तावेज़ः

1. MSME उद्योग आधार

2. पंजीकरण

3. व्यापार पंजीकरण

4. बिजनेस पैन कार्ड

5. जीएसटी नंबर

6. बीआईएस पंजीकरण

7. ट्रेडमार्क

कहां बेचेंगे ज्वेलरी

आर्टिफिशियल ज्वेलरी को ऑनलाइन और मार्केट दोनों में बेचा जा सकता है. ऑफ़लाइन बेचने के लिये आप स्टोर से कांटेक्ट कर सकते हैं. ऑनलाइन ज्वेलरी बेचने के लिये आप ई-कॉमर्स वेबसाइट्स अमेज़न, फ्लिप्कार्ट, ईबे, स्नेप डील जैसी वेबसाइट्स से संपर्क कर सकते हैं.

बिज़नेस करने से पहले किन बातों का रखें ध्यान

1. ये व्यापार जितना लाभ वाला है, उतना ही जोखिम भरा भी है. व्यापार के लिये आपको मार्केट का ट्रेंड पता होना चाहिये. अगर आप फ़ैशन से हटकर कुछ करना चाहेंगे, तो इसे ख़रीदना नहीं चाहेगा. जिससे आपको ज्वेलरी बेचने में कई समस्याएं आयेंगी.

2. अगर ज्वेलरी के व्यापार के लिये आपको सामान ख़रीदना है, तो होलसेल मार्केट से खरीदें. बाक़ी जगहों से होलसेल मार्केट में आपको सामान खरीदना थोड़ा सस्ता पड़ेगा.  

3. ज्वेलरी आप मार्केट में बेचना चाहते हैं या ऑनलाइन ये आप निर्भर करता है. पर इसके लिये आपको मार्केटिंग भी तगड़ी करनी पड़ेगी फिर चाहे आप इसे ऑनलाइन बेंचे या ऑफ़लाइन.

4. बिजनेस में आपको अपने प्रतिदंद्वियों पर भी ध्यान देना है. प्रतिदंद्वी कौन सी चीज़ ले रहे हैं या उनकी कौन सी चीज़ ज्यादा बिक रही है, इन सब पर ध्यान देना होगा. उसी तरह की चीज़े या उनसे अच्छी चीज़े यदि आप बनायेंगे, तो हर कोई आपकी बनाई ज्वेलरी खरीदने चाहेगा.

कैसे करें व्यापार की मार्केटिंग

1. हस्तशिल्प मेले में जायें

कई जगहों पर अकसर इस तरह के मेले लगते रहते हैं. इन मेलों में जाकर आप अपनी दुकान खोलकर अपनी ज्वेलरी का प्रचार कर सकते हैं. मेले में आप अपने आकर्षक उत्पादों के बारे में ग्राहकों को बतायें और उन्हें उसे ख़रीदने की वजह बतायें.

2. सोशल मीडिया पेज बना कर

ये सोशल मीडिया का जमाना है. इसलिये आप ऑनलाइन अपनी वेबसाइट बनाकर या फिर कोई फेसबुक पेज या ग्रुप बनाकर इसका प्रमोशन कर सकती हैं. इसके अलावा आज कर लोग इंस्टाग्राम पर भी पेज बना कर अपने प्रोडक्डट का प्रमोशन करते हैं. इसके साथ ही उसे बेचते भी हैं.

3. दूसरो का सामान बेचकर

अगर आप ख़ुद की ज्वेलरी का व्यापार नहीं कर रहे हैं, तो आप दूसरों की बनाई ज्वेलरी का प्रमोशन करके या फिर उसे बेच कर, उसमें मुनाफ़ा कम सकते हैं. इसके लिये आप सोशल मीडिया पेज पर एक्टिव रहने के साथ-साथ शॉर्ट वीडियो बनाने वाले ऐप पर भी प्रमोशन कर सकती हैं.

4. घर पर या दुकान पर बेचें

अगर आप छोटे स्तर पर व्यापार की शुरूआत करते हैं, तो उसे घर से भी शुरू कर सकते हैं. घर पर दुकान खोल ज्वेलरी बेचें. घर के साथ-साथ आप इसे लोकल दुकानदारों को भी बेच सकते हैं. अगर घर से काम शुरू करती हैं, तो उसमें लागत कम आती है.

तो ये थीं वो बातें, जिससे आप अपना ज्वेलरी का व्यापार शुरू कर सकते हैं. आगे चल कर ये व्यापार आपकी कमाई का मुख्य जरिया बन सकता है. अगर आपको व्यापार के लिये कुछ भी शंका होती है, तो आप जानकारों से इसके लिये सलाह भी ले सकते हैं.

यह भी पढ़ें :

1) छोटे बिज़नेस व्यापारी कैसे करें अपने स्टाफ़ को मैनेज?
2) बिज़नेस शुरू करने से पहले जान लें ये क़ानून
3) कैसे शुरू करें दुपट्टे का बिज़नेस?
4) कैसे दाखिल करें इनकम-टैक्स ऑनलाइन? पढ़िए स्टेप-बाई-स्टेप गाइड