अपने बिज़नेस को ईको-फ़्रेंड्ली कैसे बनाएँ?

. 1 min read
अपने बिज़नेस को ईको-फ़्रेंड्ली कैसे बनाएँ?

आजकल देश भर में लगभग सभी बिजनेस ज्यादा से ज्यादा इको फ्रेंडली होने के लिए प्रयास कर रहे हैं. किसी भी बिजनेस को इको फ्रेंडली बनाना ना सिर्फ पर्यावरण के लिए अच्छा है बल्कि यह है उस ऑफिस में काम करने वाले स्टाफ और स्वयं उस बिजनेस के लिए भी बहुत कामगार साबित होता है.

यहां पर आपका खर्च तो बचता ही है, साथ ही यह आपके ब्रांड की अच्छी इमेज मार्केट में बनाने में भी बहुत मदद करता है.

क्यों जरूरी है बिज़नेस को इको फ्रेंडली बनाना?

आजकल के समय के अनुसार अगर आप पर्यावरण को बचाने के लिए एक कदम भी उठा सकते हैं तो उसमें कोई दो राय नहीं रखनी चाहिए. इसीलिए जितना ज्यादा हो सके आने वाली पीढ़ी के लिए, आज हमें अपने पर्यावरण को बचाने की जरूरत है. तो आइए जानते हैं कि कौन से आसान से तरीके हैं जिन्हें  आप अपना सकते हैं;

जितना ज्यादा हो सके पेपर को करें रिसाइकिल

हम देखते हैं कि किसी भी बिजनेस में पेपर का इस्तेमाल बहुत ज्यादा किया जाता है. यह सुनने में आपको बहुत ही अटपटा लग सकता है लेकिन यह सच है. अगर हम एक भरे पूरे बिजनेस में शुरुआत पेपर को रिसाइकल करने से करें तो हम पर्यावरण को काफी हद तक बचा सकते हैं. ऐसे में हम कर सकते हैं;

  • अपने ऑफिस में लगभग सभी पेपर को रिसाइकल करने की कोशिश करें और बाकी लोगों को भी इसके लिए प्रोत्साहित करें.
  • जितना ज्यादा हो सके ऑनलाइन बिलिंग का इस्तेमाल करें.
  • जब जरूरत ना हो तब बहुत अधिक प्रिंट या फोटो कॉपी करने से बचें

इको फ्रेंडली वाहन का करें इस्तेमाल

हालांकि यह एक कोशिश भर हैं पर आप अपने ऑफिस में काम करने वाले स्टाफ को ऑफिस तक आने के लिए इको फ्रेंडली तरीकों का इस्तेमाल करने के लिए कह सकते हैं. आजकल हम देख रहे हैं कि एक घर में लगभग सभी लोगों के पास कार हैं और वह अपनी अलग-अलग कार इस्तेमाल करते हैं ऐसे में आप अपने ऑफिस स्टाफ को प्रोत्साहित कर सकते हैं कि वह कार पुलिंग की सुविधा का अवसर उठाएं और जितना ज्यादा हो सके पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करें.

इसके अलावा अगर आपका ऑफिस आपके घर के करीब हैं तो वाक करते हुए ऑफिस आने से बिल्कुल भी परहेज न करें. यह सिर्फ पर्यावरण के लिए अच्छा है बल्कि यह आपकी सेहत के लिए भी उतना ही ज्यादा फायदेमंद है.

इसमें पाक बनाने से ना करें परहेज हालांकि आजकल हमने देखा है कि शहरों में जगह कम होती जा रही हैं पर फिर भी

ऑफिस एरिया में एक छोटा सा गार्डन बनाएं

ऑफिस में एक गार्डन जरुर बनाएं और हो सके तो अपने स्टाफ मेंबर को भी ऐसा करने के लिए कहें. आप इसके लिए कुछ ना कुछ दिलचस्प एक्टिविटी भी कर सकते हैं जिसमें लोग अपने नाम के छोटे से पौधे या पेड़ ऑफिस में रख सकते हैं. यह बहुत ही कॉमन चीज है पर यकीन मानिए यह पर्यावरण को अच्छा बनाने के लिए एक बहुत ही बेहतरीन कदम है.

इलेक्ट्रॉनिक्स और फर्नीचर को करें रिसाइकिल

सबका एक सपना होता है कि जब भी वह अपना बिजनेस शुरू करेंगे तो वहां पर सजावट को अपनी पसंद से करेंगे और जैसा कि हम देख रहे हैं कि हमारा पर्यावरण दिन प्रतिदिन खराब होता जा रहा है ऐसे में कोशिश करें कि आप अपने ऑफिस में फर्नीचर पुराना भी इस्तेमाल कर सकते हैं. आपको उसे बस एक नया लुक देने भर की जरूरत है इसी तरह से आप इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स भी रीसायकल कर सकते हैं और ध्यान रहे कि इस तरह के इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स इस्तेमाल करें जो कम से कम बिजली की खपत करें.

ऑडिट करवाएं

जितना हो सके उतना अपने बिजनेस में एनवायरनमेंट ऑडिट करवाने की कोशिश करें. इसमें ऑडिट के लिए आने वाले लोग आपकी कंपनी को देखते हुए आपके बिजनेस को इको फ्रेंडली बनाने के लिए आपके सामने सुझाव रखते हैं और आप वह सुझाव मानते हुए बहुत ही अच्छी तरह से अपने आसपास के वातावरण को इको फ्रेंडली बना सकते हैं.

काम करने वाले सभी लोगों को करें प्रोत्साहित

पर्यावरण को बचाना एक ऐसी चीज है जिसमें सभी को साथ मिलकर काम करना ही होगा. आप के ऑफिस के बिजनेस में भी सिर्फ अकेले आप यह गोल प्राप्त नहीं कर सकते हैं इसीलिए जितना ज्यादा हो सके अपने साथ काम करने वाले स्टाफ के हर मेंबर को पर्यावरण के बचाव के लिए प्रोत्साहित करें.

इको फ्रेंडली मार्केटिंग

जितना ज्यादा हो सके अपनी कंपनी में इको फ्रेंडली मार्केटिंग करने की कोशिश करें. जैसे कि आप इको फ्रेंडली दिलचस्प एक्टिविटी समय-समय पर ऑफिस में कर सकते हैं. उदाहरण के लिए क्लीन एनर्जी मंथ या फिर अर्थ डे आदि को सेलिब्रेट करने की पूरी कोशिश करें इससे लोग इस मिशन से जुड़े रहने के लिए प्रोत्साहित रहेंगे.

सोलर एनर्जी का करें इस्तेमाल

पिछले कुछ समय से सोलर एनर्जी बड़े-बड़े ऑफिस और यहां तक कि घरों में भी इस्तेमाल की जा रही है इसीलिए जितना ज्यादा हो सके अपने वर्कस्पेस को सोलर एनर्जी से जोड़ने की कोशिश करें.

जितना ज्यादा हो सके बचाएं पानी

हालांकि हम जानते हैं कि ऑफिस जैसी जगह पर पानी की खपत बहुत ज्यादा होती है पर फिर भी कोशिश करें जितना ज्यादा हो सके आप उतना पानी बचा सके और उसे व्यर्थ में खर्च ना करें.

ग्रीन क्लीनिंग प्रोडक्ट्स का करें इस्तेमाल

साफ सफाई करने वाले प्रोडक्ट में बहुत ज्यादा केमिकल होते हैं जो हमारे पर्यावरण को सीधे तौर पर हानि पहुंचाते हैं. इसीलिए ऑफिस में या हो सके जहां भी आप इस्तेमाल कर रहे हैं वहां आप ग्रीन क्लीनिंग प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें. ताकि आप पर्यावरण को बचाने में थोड़ी साझेदारी जरूर कर सकें.

यह सब कुछ छोटी सी टिप्स हैं जो आप दिन प्रतिदिन अपनी लाइफ स्टाइल में अपनाकर पर्यावरण को इको फ्रेंडली बनाने में मदद कर सकते हैं इन सबके अलावा भी ऐसी बहुत सी चीज है जो हम अपनी दिनचर्या में बदल सकते हैं और अपने स्कूल की तरफ बढ़ सकते हैं

भले ही आप को सुनने में यह सब थोड़ा सा मुश्किल लगे लेकिन यकीन मानिए अपने बिजनेस को इको फ्रेंडली बनाना उतना मुश्किल नहीं है अगर आप एक बार अपने साथ काम करने वाले लोगों को इसके लिए राजी कर लेते हैं और उन्हें इस सफर में प्रोत्साहित रखते हैं तो यह आपके लिए बहुत ही आसान है आजकल के बदलते परिवेश में पर्यावरण को जिस तरह से नुकसान हो रहा है कहीं ना कहीं इको फ्रेंडली होना हमारी जिम्मेदारी भी है इसीलिए इसे सिर्फ एक फायदे का सौदा ना समझे बल्कि पर्यावरण के प्रति इसे अपनी जिम्मेदारी समझते हुए इस की ओर कदम बढ़ाने में लगे रहे बहुत ही कम लागत पर आप ऐसा कर सकते हैं और यकीन माने अंत में जाकर आपको अपने किए हुए पर काफी अच्छा महसूस होगा

यह भी पढ़ें :

1) क्या जीएसटी सॉफ़्टवेअर की बिज़नेस में आवश्यकता होती है? क्या हैं इसके फ़ायदे/नुक़सान?
2) रियल एस्टेट कंसल्टिंग फर्म का बिज़नेस कैसे शुरू करें?
3) रीसाइक्लिंग (Recycling) का बिज़नेस कैसे शुरू करें?
4) मोबाइल शॉप कैसे खोलें? जानिए कुछ टिप्स और ट्रिक्स
5) बिज़नेस शुरू करने से पहले जान लें ये क़ानून