अपने खुद के यूट्यूब चैनल की शुरुआत कैसे करें? कैसे चुने सटीक टॉपिक जिसे लोग पसंद करें और होगा मुनाफ़ा?

. 1 min read
अपने खुद के यूट्यूब चैनल की शुरुआत कैसे करें? कैसे चुने सटीक टॉपिक जिसे लोग पसंद करें और होगा मुनाफ़ा?

क्या आप भी मेरी ही तरह खुद का यूट्यूब चैनल खोलना चाहते हैं. क्या आप भी चाहते हैं की आपका यूट्यूब चैनल हो. क्या आप भी अपने पसंदीदा यूट्यूबर को देख कर उसकी तरह बनना चाहते हैं. और उसकी तरह यूट्यूब पर आप भी वीडियो डालकर फेमस होना चाहते हैं. जिससे आप को ज्यादा से ज्यादा लोग देख पाएं. और आप भी थोड़े बहुत पैसे कमा पाएं. तो आज इसी के मद्देनजर में इस लेख में आपको बताऊंगा वो तरीका जिससे आप अपना खुद का यूट्यूब चैनल बना सकते हैं.

खास बात ये है की इस साइट पर अपना यूट्यूब अकाउंट या चैनल बनान बेहद आसान है. और सबसे बड़ी बात ये है की इसे बनाने या खोलने के लिए आपको कोई पैसा भी नहीं देना पड़ता. बस आपको कुछ स्टेप फॉलो करने होते हैं जो आज में आप को बताऊंगा.

यूट्यूब चैनल से पहले बनाना होगा गूगल अकाउंट

कोई भी यूट्यूब चैनल बनाने या उसकी शुरुआत करने के लिए सबसे पहली जरूरत की चीज है गूगल अकाउंट. जी हां आपके आप अपना खुद का एक एक्टिव गूगल अकाउंट होना चाहिए. अगर आपके पास गूगल अकाउंट नहीं है. तो आप सबसे पहले गूगल में एक अकाउंट बना लीजिए. यूट्यूब पर गूगल अकाउंट से साइन इन करने के बाद आप भी यूट्यूब पर अपना चैनल बनाने की प्रक्रिया शुरु कर सकते हैं.

यूट्यूब पर कैसे बनाए चैनल?

गूगल अकाउंट बनने के बाद सबसे पहले आप यूट्यूब पर जाकर दाएं कोने में सबसे ऊपर की तरफ अपने यूट्यूब अकाउंट की थंबनेल इमेज पर क्लिक करें. इस पर क्लिक करने से ड्एक रॉप डाउन टैप खुल जाएगा. अब चैनल की सेटिंग के लिए क्रिएटर स्टडियों जहां लिखा है उसके पास दिए गए गियर आइकल पर क्लिक करें. चैनल सेटिंग आइकल के लिए बटन को क्लिक करें.

अब आपके सामने एक पेज आएगा जिसमें आप अपनी पसंद का कोई भी या अपने हिसाब से अपने चैनल को नाम दे सकते हैं. चैनल के नाम के लिए आप कोई युनीक नाम चुनें. सबसे अच्छा होगा की आप इसके लिए एक ऐसे नाम को चुनें जिससे यह स्पष्ट हो जाए कि आपका यूट्यूब चैनल किससे संबंधित है. लेकिन ध्यान रखें की जो नाम आप अपने चैनल को दे रहे हैं वो किसी और ने ना डाला हो. इससे एक तो आपका और उसके चैनल का नाम एक जैसा हो जाएगा. और दूसरा ये की अगर आप कुछ अनोखा नाम रखते हैं तो सर्च करते समय आपका चैनल सबसे ऊपर आएगा. एक बार नाम सेलेक्ट करने के बाद आपको कैटेगरी भी सैलेक्ट करनी होगी. यानी आपका चैनल किस टॉपिक पर है. और आप किस तरह की वीडियोज डाल रहे हैं. उसके हिसाब से आप अपनी कैटेगरी सैलेक्ट कर सकते हैं. इन सब चीजों के करने के बाद फिर आप पेज की टर्म्स एंड कंडिसन पर सहमति करने के बाद डायलॉग बॉक्स पर क्लिक करें.

अब नीचे इन पर क्लिल करें. (आगे जाने से पहले नियम और शर्ते ध्यान से पढ़ लें.)

यहां आने का मतलब है की आपने अब एक यूट्यूब चैनल आधिकारिक तौर पर बना लिया है. अब आप अपने आप एक नए पेज पर रीडायरेक्ट हो जाएंगे. जहां आप अपने पेज के ब्रांड से जुड़ी तस्वीरें, बैकग्राउंड आर्ट, चैनल आइकन डाल सकते हैं. ध्यान रखें की आप इस पेज को ना छेड़ें और लॉग आउट ना करें. अगर आप अपने यूट्यूब चैनल पर नहीं हैं. तो साइट पर दाएं कोने में सबसे ऊपर बने अकाउंट फ्रोफाइल आइकन पर क्लिक करें और डॉप डाउन विकल्प में से अपने नए यूट्यूब पेज पर बिना कुछ सोचे क्लिक करें. अपने चैनल की प्रोफाइल फोटो को बदलने के लिए पेन आईकन पर क्लिक करें. ये प्रोफाइल फोटो पर मूव करने पर दिखता है. गौर करने वाली बात यहा है की आपके यूट्यूब चैनल का आइकन आपके गूगल प्लस पेज से भी कनेक्टेड है. इस लिए ये कुछ चेंजेस आपकों दोनों ही पेज पर दिखेगा. इस प्रक्रिया में थोड़ा टाईम लग सकता है. इसके साथ ही चैनल बैकग्राउंड यानी की आपके चेनल का कवर पेज बदलने के लिए आप एड चैनल आर्ट टैब सेलेक्ट कर सकते हैं. अगर आपके पास बैकग्राउंड पर लगाने के लिए कोई पिक नहीं है तो भी घबराने की बात नहीं आप यूट्यूब के पास से एक अच्छी सी फोटो चुनकर लगा सकते हैं. जहां से आप अपने चैनल से रिलेडेड इमेज इसमें लगा सकते हैं. अब आप अपने नए चैनल के बारे में कुछ भी मजेदार और आकर्षक डिस्क्रिप्शन डाल सकते हैं. सबसे अच्छा रहेगा की आप अपने चैनल के बारे में कुछ खास जानकारी दें. जिसे पढ़ने के बाद लोग आपके चैनल को जान पाए की असल में आप किस किस टॉपिक पर वीडियोज बनाने हैं. इसके अलावा बिजनेस डन्क्वायरी के लिए आप एक ईमेल भी बता सकते हैं. अब आप अपने यूट्यूब चैनल में वीडियो अपलोड के विकल्प को सेलेक्ट कर कोई भी वीडियो अपलोड कर सकते हैं.

कैसे होती है यूट्यूब से कमाई?

यूट्यब से जो भी कमाई होती है. उसका 45 फीसदी हिस्सा यूट्यूब के पास जाता हैं. और बाकी का 55 फीसदी आपके पास आएगा. आपकी कमाई आपके चैनल पर एड के चलने के बाद से होती है. यह विज्ञापन आपको तब मिलने है जब आपके चैनल की व्यूअरशिप बढ़ती है. कंपनी की गाइडलाइन के हिसाब से आपकी कमाई तब शुरु होती है जब आपके चैनल में 1000 सब्सक्राइबर हो और आपकी वीडियो लोगों ने 4000 घंटों तक देखी हो जिसे यूट्यूब की भासा में वॉच टाइम कहा जाता है. ये वॉच टाइम चाहे आपके पूरे चैनल की वीडियोज से आए या फिर एक ही वीडियो से. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. इसके बाद जितने लोग आपकी वीडियो को देखेंगे. उस हिसाब से कंपनी आपके चैनल के व्यूस और वॉचटाइम के आधार पर आपके अकाउंट में पैसा डालेगी.

ज्यादा कमाई के लिए अपनाएं ये टेक्निक

अपने यूट्यूब चैनल पर कुछ भी डालने से पहले जानकारी जरूर जुटाएं. कौन से वीडियो आप बनाना चाह रहे हैं उस पर सोच विचार कर उन्हें स्क्रिप्ट की तरह लिख लें. अब इनके बारे में गहनता से सोचें कि यदि आप इन्हें पोस्ट करते हैं तो देखने लालों की क्या प्रतिक्रिया आएगी. अगर आप अपने चैनल की शुरुआत कर रहे हैं तो 2 से 3 मिनट की वीडियो ही पहले पोस्ट करें. अगर आपके चैनल में व्यूज पहले के हिसाब से ज्यादा आ रहे हैं तो वीडियो की लेंड बढ़ा दें. आपकी वीडियो का टाइटल ऐसा होना चाहिए जो लोगों को पसंग आए और एक ही बार में दिमाग को हिट कर जाए. बता दें की सोशल मीडिया आजकल दुनिया के सभी सेक्टर के लिए जरूरी हो गया है. किसी भी चीज की एड और मार्केटिंग करने के साथ ही सोशल मीडिया पर आप दूसरे तरीके से पैसे कमा सकते हैं.

अब आपके पास अपने पसंदीदा यूट्यूबर की ही तरह फेमस होना का बेहतरीन प्लेटफॉम है.  कमाई की बात रहें यो यूट्यूब से लोग करोड़ों रुपए महीने के कमा रहे हैं. और अगर आपका कंटेंट भी अच्छा है तो आप भी यूट्यूब से ढेर सारी कमाई कर सकते हैं.

यूट्यूब अकाउंट की इन बातों का रखें सबसे ज्यादा ध्यान

  • अपने चैनल को ज्यादा अच्छा बनाने के लिए गियर आइकल पर जाएं. गियर आइकन साइट पर दाएं कोने में सबसे ऊपर अपने अकाउंट की प्रोफाइल इमेज सेलेक्ट करने पर दिखेगा. अगर आप अपने चैनल को सोशल मीडिया साइट जैसे ट्विटर, इंस्टाग्राम, फेसबुक या किसी भी दूसरे अकाउंट से कनेक्ट करना चाहते हैं. तो आप अपने दूसरे सोशल मीडिया अकाउंट्स से कनेक्ट हो सकते हैं. इससे आपका ट्विटर या कोई भी सोशल मीडिया प्रोफाइल सोशल अपडेट के लिए यूट्यूब चैनल से कनेक्ट हो जाएगा.
  • इसके अलावा फीड सेटिंग ऑन योर चैनल को सेलेक्ट कर के आप चैनल फीड पर शेयर की गई एक्टिविटी को अपने यूट्यूब चैनल के अकाउंट पर भी मैनेज कर सकते हैं. इसके साथ ही आप अपने यूट्यूब चैनल के लेआउट को भई कस्टमाइज कर सकते हैं.
  • अपने यूट्यूब चैनल के लाइक और सब्स्क्रिप्शन को आप अकाउंट सेटिंग में जाकर प्राइवेट कर सकते हैं. इसका कारण ये है की कोई भी आदमी किसी नए चैनल को जल्दी से सब्सक्राइब नहीं करता है. हां जब आपके सब्सक्राइबर ज्यादा हो जाएं तो आप जाहो तो इसे अनेबल भी कर सकते हैं.
  • यूट्यूब से आने वाली ईमेल नोटिफिकेशन को मैनेज करने के लिए अकाउंट सेटिंग मेन्यू में जाकर नोटिफिकेशन पर क्लिक करें. इससे आप निश्चित कर पाएंगे की यूट्यूब आपको किन एक्टिविटी या अलर्ट के लिए नोटिफिकेशन भेजे.
  • वीडियो डालते समय सरकार की नियमों का पालन करने के साथ ही चैनल में अपने वीडियो पोस्ट करें. ऐसे कंटेंट का चुनाव करें जिससे सराका या यूट्यूब को आपका चैनल ही बंद करवाना ना पड़े.
  • अपने चैनल में कोई भी अश्लील वीडियो डालने से बचें. इससे आपका चैनल यूट्यूब की तरफ से ब्लॉक हो सकता है.
  • की वर्ड सेलेक्शन आपके चैनल के वीडियो को हिट और फ्लॉप करने में सबसे अगम भूमिका निभाता है. इसलिए जो भी की वर्ड चल रहे हैं उनके अनुसार ही अच्छा कंटेंट बनाने की कोशिश करें.
  • कोई भी वीडियो चैनल पर डालने से पहले अपने टॉपिक पर रिसर्च करना ना भूलें और उन विषयों को चुनें जिन पर ज्यादा काम ना किया गया हो- सबसे बड़ी और आखरी बात ये की किसी का कॉपीराइट कंटेंट अपलोड ना करें. और खुद का ही कंटेंट बनाए और अपलोड करें.

यह भी पढ़े :

1) यूट्यूब पर बिज़नेस चैनल कैसे बनाएं? कैसे होगा मुनाफा और कैसे करें प्रचार?
2) फोटो स्टूडियो कैसे खोलें? लागत, मुनाफा और अन्य जानकारियां
3) अपने शहर में और लोकल सामान बेचने के लिए ऑनलाइन बिज़नेस की शुरुआत कैसे करें?
4) ऑनलाइन फोन केस बिजनेस की शुरुआत कैसे करें? लागत, मुनाफा और अन्य जानकारियां