आंध्र प्रदेश का फ़ेमस स्ट्रीट फ़ूड और कैसे शुरू कर सकते हैं आप इसका बिज़नेस भारत में कहीं भी?

. 1 min read
आंध्र प्रदेश का फ़ेमस स्ट्रीट फ़ूड और कैसे शुरू कर सकते हैं आप इसका बिज़नेस भारत में कहीं भी?

आंध्र प्रदेश जितना अपनी ऐतिहासिक संस्कृति के लिए जाना जाता है उतना ही वहां का खाना पीना भी प्रसिद्द है.  यहां की बिरयानी हो या फिर चिकन सभी ही चीज एक दम ख़ास रहती है और सभी इसे पसंद करते हैं.

पूरे साल भर कई सैलानी यहां घुमने आते हैं जो ऑथेंटिक खाने के साथ साथ यहां के स्ट्रीट फ़ूड का भी बेहद मजा लेते हैं.

अगर आप आंध्र प्रदेश घुमने आयें हैं तो यहां के खूबसूरत बीच के साथ साथ ये ज़रूर पता कर लें कि यहां की गलियों में आप किन किन खानों का लुत्फ़ उठा सकते हैं. पुनुगुलू, कबाब और बहुत से तरह के अलग अलग स्नैक्स ऐसे हैं जो आप एक बार खाएँगे तो उसका स्वाद आपके मन में बस जाएगा.

आएं जानते हैं आंध्र प्रदेश के कुछ फेमस स्ट्रीट फ़ूड;

1. पुनुगुलू

पुनुगुलू आंध्र प्रदेश का काफी फेमस स्ट्रीट फ़ूड है.यह लोकल और टूरिस्ट सभी लोग पसंद करते हैं. चावल और उरद दाल के बटर से बने इस क्रिस्पी स्नैक को अदरक और नारियल की चटनी के साथ परोसा जाता है. आपको अलग अलग स्टाल में बहुत से वेंडर इसे बेचते हुए मिल जाएंगे.

शाम और सवेरे कभी भी लोग चाय के साथ इसका आनंद लेते हुए आपको मिल जाएंगें. ये एक ऐसी डिश है जिसे लोग नाश्ते और शाम के समय दोनों ही टाइम खाना पसंद करते हैं.

आपको सबसे बेहतरीन पुनुगुलू  खाना है तो कोशिश करें कि आप शाम में 7 बजे से पहले जाएं वरना आपको अच्छी खासी भीड़ मिल सकती है.

2. लीवर कबाब

कबाब खाने वाले ही लीवर कबाब की अहमियत समझ सकते हैं. अगर आपको मजेदार लेमन सोडा के साथ लीवर कबाब खाने को मिल जाएं तो कहने ही क्या है. लीवर कबाब भी एक ऐसी डिश है जो यहां काफी पसंद की जाती है.

इसके अलावा लीवर कबाब के स्टाल के आस पास ही आपको चिकन कबाब, फिश फ्राई आदि भी खा सकते हैं.

यहां पर आप देखेंगे कि लोकल लोग भी इसे काफी पसंद करते हैं और शाम के समय आपको कबाब के स्टाल पर काफी ज्यादा भीड़ मिलेगी.

3. मसाला बाटनी

चलते फिरते हुए या शॉपिंग करते हुए भूख लगना लाज़मी है. इस समय के लिए  ये स्नैक्स काफी फायदेमंद रहते हैं. सफ़ेद मटर की ये चाट भी लोग स्नैक्स में बहुत पसंद करते हैं.टमाटर, प्याज़ आदि के साथ नीम्बू का रस डाल कर ये चैट बनाई जाती है. चलते फिरते आप इसका लुत्फ़ उठा सकते हैं.

4. स्वीट कॉर्न

हालांकि ये स्नैक्स हमे भारत में लगभग हर जगह मिल जाते हैं और हर किसी को ये पसंद आता है. आंध्र प्रदेश में भी आपको ये स्नैक्स हर जगह मिलेंगें. हालांकि इनके इनके स्वाद में शायद आपको ज्यादा फर्क ना लगे पर बीच पर घूमते हुए आप इसे खाते हैं तो ये काफी अच्छा लगता है.

5. बम्बू चिकन

इसे बोंगु चिकन भी कहा जाता है.अरुका वैली में ये डिश बहुत ज्यादा मिलती है. अरुका वैली आंध्र प्रदेश का काफी फेमस टूरिस्ट डेस्टिनेशन है. यहां देश विदेश से काफी लोग घुमने आते हैं. बम्बू चिकन बहुत ही अलग तरह से बनाते हैं, इसे बम्बू के अंदर चिकन को भरा जाता है और धीमी आंच पर उसी के अंदर चिकन पकता है. जब चिकन परोसा जाता है तो उसका अरोमा काफी सही रहता है. सभी लोग यहां आकर चिकन ज़रूर खाते हैं.

जब भी आप यहां घुमने आयें तो इसे ज़रूर खाएं.

6. मुरी मिक्सचर

फुले हुए चावल , मूंगफली और टमाटर प्याज़ के साथ बनाया जाने वाला ये स्नैक भी लोग काफी पसंद करते हैं. ये एकदम हल्का रहता है और छोटी मोटी भूख को जल्दी से खत्म कर देते हैं.

7. इडली

हालांकि इडली आजकल भर में हर जगह हर घर में खाई जाती है. लोग घर पर ही इसकी पूरी तैयारी कर ये डिश बना लेते हैं. पर अगर आप घूम रहे हैं या शॉपिंग आदि कर रहे हैं तो इडली एक ऐसी डिश है जो एक दम हेल्थ के लिए अच्छी है और आपका पेट भी इससे भर जाता है.

आंध्र प्रदेश की गलियों में आपको लगभग हर जगह इडली के स्टाल मिल जाएंगें. आप चलते फिरते इसका मजा ज़रूर ले सकते हैं.

8. टमाटर भाजी

एक और शानदार स्नैक जो बीच किनारे आपको मिलेगा वो है टमाटर भाजी. जैसा की नाम से ही समझ आ रहा है इमें किसी ना किसी तरह से क्रिस्पी टमाटर आपको खाने को मिलेंगे.

इस डिश में टमाटर के छोटे छोटे टुकड़े कर उन पर बेसन की कोटिंग की जाती है. उसके बाद इन्हें डीप फ्राई कर पीनट और अलग अलग तरह की चटनी के साथ परोसा जाता है. शाम की चाय के साथ ये एकदम सही लगता है.

9. एग्ग बोंडा

हमने आलू बोंडा काफी बार खाया है और घर में भी बना लेते हैं पर आंध्र की गलियों में आपको एग्ग बोंडा खाने को मिलेगा. यह खाना में स्वाद तो लगता ही है साथ ही हेल्थ के हिसाब से भी नुकसान नहीं पहुंचता है.

10. बनाना भाजी

मिर्ची भाजी तो लगभग सब खाते हैं , आंध्र प्रदेश में आपको बनाना यानि के केले की भाजी भी मिलती है. इसमें कच्चे केले को बेसन के आटे की लेयर लगा कर पकाया जाता है. इसे काफी पसंद किया जाता है. बीच के किनारे पर लोग आपको ये बेचते हुए मिल जाएंगे.

कैसे शुरू करें इसका बिज़नेस?

1. पहले जाने खाने की खासियत

सबसे पहले आपको यह सीखना होगा कि आंध्र प्रदेश के स्थानीय लोगों के हाथों में ही ऐसी कौन सी खासियत है जो वहां का लोकल स्ट्रीट फूड बनाने में मदद करती है. साथ ही वहां पर इस्तेमाल किए जाने वाले हर अलग ,मसाले और तरीको के बारे में भी आपको जानकारी रखनी होगी. जब तक आप किसी भी स्थानीय डिश के साथ वही स्वाद नहीं दे पाते हैं तब तक रेस्टोरेंट का चलना मुश्किल रहता है.

2. स्थानीय लोगों को काम पर रखने की करें कोशिश

यह बात तो आप जानते हैं कि कुछ लोग कई प्रकार के भोजन को बहुत ही अच्छी तरीके से बनाते हैं परंतु उनसे हर प्रकार का फ़ूड उतनी गुणवत्ता और स्वादिष्टता के साथ नहीं बनता है, इसी को ध्यान में रखते हुए आपको भारत के किसी भी क्षेत्र में रेस्टोरेंट खोलने से पहले तमिलनाडु के स्ट्रीट फूड मार्केट में काम करते हुए वहां का लोकल फ़ूड बनाने की कला सीखनी चाहिए या फिर आप वहां पर काम कर रहे हैं किसी स्थानीय व्यक्ति को अपने रेस्टोरेंट में काम पर लगा सकते हैं.

3. ट्रांसपोर्ट की सुविधा हो अच्छी

साथ ही यह भी ध्यान रखें कि जिस जगह पर आप अपना रेस्टोरेंट खोल रहे हैं वहां पर परिवहन की पर्याप्त सुविधा हो, क्योंकि कोई भी भोजन बनाने के लिए आपको कच्चे माल की आवश्यकता होगी और वह माल ताजा भी होना चाहिए।

यदि परिवहन की अच्छी सुविधा होगी तो आप आसानी से ताजा सब्जियां और अन्य चीजें अपने रेस्टोरेंट तक पहुंचा पाएंगे,जो कि अच्छा भोजन बनाकर ग्राहकों को संतुष्टि प्रदान करने में सहायक होगा।

इससे ग्राहकों का विश्वास भी बढ़ेगा और वह ज़रूर आपके रेस्टोरेंट में फिर से विजिट करेगा।

4. क्वालिटी का रखें ख़ास ख्याल

हमेशा यह बात ध्यान रखें कि सिर्फ एक रेस्टोरेंट खोलने से ही कुछ नहीं होगा बल्कि आपको लोगों को बेहतरीन क्वालिटी का फूड भी अवेलेबल करवाना होगा. जब खाने की क्वालिटी अच्छी होगी तभी लोगों के बीच रेस्टोरेंट का नाम बनता है.

5. सोशल मीडिया का लें सहारा

वर्तमान समय में हर भारतीय की इंटरनेट तक पहुंच आपके व्यवसाय को भी लोगों तक पहुंचाने में मदद करेगी।इसके लिए आप इंटरनेट के माध्यम से आपके रेस्टोरेंट के नाम से ही एक वेबसाइट बना सकते हैं, जो कि होम डिलीवरी की सुविधा भी प्रदान करें।इस दौरान होम डिलीवरी करते समय आप उस भोजन के साथ में कुछ दूसरे स्ट्रीट फ़ूड के सैंपल भी भेज सकते हैं, जिन्हें खाने के बाद ग्राहक आप के उस दूसरे भोजन को भी पसंद कर सके और उसे भी ऑनलाइन माध्यम से ही ऑर्डर कर सकें.

7. लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन करें पूरा

किसी भी तरह का स्ट्रीट फूड रेस्टोरेंट खोलने के लिए आपको लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता होती है, इसलिए यह सब पहले ही कर लें ताकि आपको किसी तरह के क़ानूनी दाव पेच में ना फसना पड़े और आपका वक्त भी बच जाए.

इसके बाद में सरकारी संस्थाओं के द्वारा आपके भोजन की जांच की जाती है और गुणवत्ता तथा मानकता के पैमाने पर खरे उतरने के बाद आपको लाइसेंस प्रदान कर दिया जाता है. इसके लिए आपको रेस्टोरेंट्स खोलने के साथ ही अपना रजिस्ट्रेशन भी अप्लाई करना होगा.

अलग-अलग राज्यों के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया अलग-अलग होती है आप जिस राज्य में अपना रेस्टोरेंट खोलना चाहते हैं वहां के फ़ूड डिपार्टमेंट से इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. पहले से ही अगर आप ये जानकारी रखते हैं तो ये आपके और आपके बिज़नेस दोनों के लिए अच्छा रहता है और आपका बिज़नेस आसानी से आगे बढ़ता है.

इस तरह से आप बड़ी आसानी से आंध्र प्रदेश से जुड़े स्ट्रीट फ़ूड का बिज़नेस देश के किसी भी हिस्से में शुरू कर सकते हैं.

यह भी पढ़े :

1) दिल्ली का फेमस स्ट्रीट फूड और कैसे शुरू कर सकते हैं आप इसका बिजनेस भारत में कहीं भी
2) कर्नाटक का फेमस स्ट्रीट फूड और कैसे शुरू कर सकते हैं आप इसका बिजनेस भारत में कहीं भी
3) सिक्किम का स्ट्रीट फूड बन सकता है देशभर के लोगों का फेवरेट, जानिए कैसे शुरू करें बिजनेस
4) हिमाचल प्रदेश का फ़ेमस स्ट्रीट फ़ूड और कैसे शुरू कर सकते हैं आप इसका बिज़नेस भारत में कहीं भी